Open FREE Demat Account Now

 
I authorize 5paisa to call or send text through the Short Messaging Service (SMS) in relation to any of their products
 
Stock Price Change (%) Open High Low

सेंसेक्‍स क्‍या है?

सेंसेक्‍स (संवेदी सूचकांक), इसे एसएंडपी बीएसई सेंसेक्‍स इंडेक्‍स भी कहा जाता है। यह बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (बीएसई) का बेंचमार्क इंडेक्‍स है। इसकी स्‍थापना 1986 में हुई थी, और यह भारत का सबसे पुराना स्‍टॉक इंडेक्‍स है।

सेंसेक्‍स में शामिल स्‍टॉक बैंकिंग सेक्‍टर (40.45%), इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी सेक्‍टर (13.09%), ऑटोमोबाइल सेक्‍टर (10.20%), ऑइल एवं गैस (10.70%), एफएमसीजी(9.75%), मैटल सेक्‍टर (2.30%), हैल्‍थकेयर (2.58%) तथा टेलिकॉम (1.21%) से हैं।

विस्तार से जानिये

विश्लेषक और निवेशक संपूर्ण विकास, विशेष उद्योगों के विकास और भारतीय अर्थव्यवस्था के उतार-चढ़ाव का पता करने के लिए सेंसेक्स का उपयोग करते हैं।

2002 में 3,377.28 के करीब से लेकर 2018 में 35,587.89 तक, 21 वीं शताब्दी के पहले दशक में सेंसेक्स ने जबरदस्त विकास देखा है। यह भारत की जीडीपी वृद्धि को प्रतिबिंबित करता है। आईएमएफ के अनुमानों के अनुसार, 2002 से 2007 के बीच भारत का सकल घरेलू उत्पाद 8.01% की औसत वार्षिक दर से बढ़ा है। वैश्‍विक आर्थिक मंदी के चलते, 2008 में इसकी जीडीपी की वृद्धि दर 3.89% पर पहुंच गई। लेकिन 2010 में एक बार फिर मजबूती दिखाते हुए यह 10.26% हो गई। 2016 में जीडीपी ग्रोथ 7% से अधिक होने की उम्मीद जताई गई थी, जो अमेरि‍का की 2-2.5% और जापान तथा यूरोप में 1-2% की अनुमानित वृद्धि दर की तुलना में काफी अधिक थी। यह आर्थिक चमत्कार भारतीय मध्यम वर्ग के उदय के कारण हुआ है, जो 2000 में वैश्विक मध्यम वर्ग के 1% से भी कम था, लेकिन 2020 तक इसके 10% तक होने की उम्मीद है। मध्यम वर्ग खपत की मांग का एक महत्वपूर्ण कारक है।

सेंसेक्‍स की गणना कैसे की जाती है?

सेंसेक्स इंडेक्स की गणना एक फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन विधि का उपयोग करके की जाती है। यह गणना कंपनी द्वारा जारी किए गए सभी शेयरों को अपने स्टॉक की कीमत के साथ गुणा करके की जाती है। बीएसई एक फ्री फ्लोट फैक्‍टर निर्धारित करता है जो कंपनी के बाजार पूंजीकरण का एक गुणन होता है। यह कंपनी द्वारा प्रस्तुत ब्योरे के आधार पर फ्री फ्लोट बाजार पूंजीकरण को निर्धारित करने में मदद करता है। फिर, 100 के बेस इंडेक्‍स के आधार पर रेशियो और प्रपोर्शन का प्रयोग किया जाता है। यह सेंसेक्स को निर्धारित करने में मदद करता है।

Open an Account in 5 Easy Steps


Fill your personal
Details

Fill bank
Details

Upload your
Documents

Make
Payment

E-Sign your
Form

5paisa Account Advantages